Charles And Amaira
Frienship Story - Inspirational Story - sad stories - Stories - Thriller Story

Charles And Amaira – 2

 

मैं बस कुछ देर वहाँ शॉकेड होकर खड़ी रही और फिर इस्माइल करके आज का दिन सच में बहुत अच्छा था और अंदर चली गई।
आज पूरे दिन में बस शाम होने का इंतजार कर रहीं थी। सारा दिनदिमाग में बस चार्ल्स की बात घूम रही थी। सोच रही थी क्या कहना है उसे मुझसे? थोड़ी देर बाद मम्मी ने मुझे आवाज लगायी कहने लगीं बेटा श्याम हो गई है चार्ल्स तुम्हारा इंतज़ार कर रहा है। मेरी जैसे ही घड़ी पर नजर पड़ी, मैं जल्दी से तैयार होकर घर से निकल गई। में भागते हुए गार्डन में इंटर हुई और सारी जगह वो चार्ल्स को ढूंढने लगी। पर वो मुझे कहीं दिखा नहीं। मैंने सोचा कि मुझे बुलाकर खुद आना भूल गया क्या ?? मुझे गुस्सा आने लगा। पर इतने में ही मेरी नजर चार्ल्स पर पड़ी वो बस गार्डन में एंटर ही कर रहा था। चार्ल्स भागते हुए मेरे पास आया और कहने लगा आई एम सॉरी तुम्हे बुलाकर खुद लेंट हो गया। मैंने उसे कहा, इट्स ओके चार्ल्स तुम आ गए इतना काफी है।  मैंने उससे कहा तुम मुझे कुछ बताना चाहते थे? कोई जरूरी बात करनी थी मुझसे ?? तब उसने कहा मैं काफी दिनों से तुम्हें यह बताना चाहता था, पर समझ नहीं आ रहा था कि बताऊँ कैसे? तब मैंने उनसे कहा चार्ल्स कोई बात नहीं अब बता दो। तब चार्ल्स ने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझसे कहने लगा मुझे डर लग रहा था कि कहीं मेरी बात सुन कर तुम मुझसे नाराज या बात करना बंद ना कर दो? तब मैंने उसे कहा चाहे कोई भी बात हो बता दो बिलीव मी मैं तुमसे नाराज नहीं होगी। और ना ही तुमसे बात करना बंद करोगी। आई प्रॉमिस अब तुम शांति से मुझे बता दो बात क्या है?
चार्ल्स ने मुझसे कहा कि आई एम इन लव। देयर इस समवन इन माई लाइफ जिसके बिना मैं अब नहीं रह सकता। उसकी आदत हो गई है आई लव हर। चार्ल्स का कन्फेशन सुनकर मेरा दिल टूट गए। जिंस बात का मुझे इतने दिनों से डर था, आज वह सच हो गाया चार्ल्स  किसी और से प्यार करता है। मुझे काफी बुरा लग रहा था, रोना भी आ रहा था। ऐसा लग रहा था चार्ल्स को बता दूँ, लेकिन फिर मैंने सोचा नहीं, मुझे उसे अपसेट नहीं करना चाहिए और फिर मैंने चार्ल्स को कहा आई एम रियली हैप्पी फॉर यू चार्ल्स। आई विश तुम जिसे भी चाहते हो वो तुम्हें मिल जाए और तुम्हारी बुरी लाइफ खुशियों से भर जाए। फिर मैंने उसे एक फ्रेंडली हक किया, उसके बाद मैंने उससे कहा चार्ल्स आई एम सॉरी  मुझे जाना होगा, मॉम मेरा वेट कर रही आज हमें उनके दोस्त के घर जाना है डिनर करने के लिए। चार्ल्स कुछ बोलने वाला था, पर मैंने उसे रोक दिया और कहा वैसे आई वांट टु मीट हर। में जानना चाहती हूँ कौन है वह लड़की जिसने मेरे बेस्ट फ्रेंड का दिल जीत लिया? तब चार्ल्स ने कहा यू विल मीट हर सून। जल्द में  उसे वेलेंटाइन डे पार्टी पर अपने  साथ जाने के लिए प्रोपोज़ करूँगा। तब  तुम्हे भी पता चल जाएगा कि वो कौन है और फिर मैं वहाँ से चली गई।
तीन हफ्ते बाद।
आज पूरे तीन हफ्ते हो गए हैं जब से मुझे पता चला है कि चार्ल्स किसी और से प्यार करता है। मैं उस बात को भूल नहीं पा रही हूं। यह सोचकर कि चार्ल्स मुझसे प्यार नहीं करता मेरा दिल टूट जाता है लेकिन मैं कुछ कर भी नहीं सकती। क्योंकि अगर इसी में चार्ल्स की खुशी है तो मुझे ये एक्सेप्ट करना होगा। मैं यही सब सोच रही थी और मेरे रूम का गेट नॉक होने लगा। जैसे ही मेन गेट खोला  मम्मी ने मुझे बताया चार्ल्स आया हुआ है और वह काफी ज्यादा घबराया हुआ है। तब मैंने उनसे कहा कि मम्मी आप परेशान मत हो मैं पूछती हूं उससे क्या बात है?? और फिर मैं चार्ल्स के पास चली गई। वह मेरे घर के गार्डन में था। मैं जैसे ही उसके पास गई तो देखा वह रो रहा था। जब मेने उससे पूछा चार्ल्स क्या बात है तुम इतना परेशान क्यों हो?? तो उसने घबरा कर मुझे हग़ कर लिया और जोर-जोर से रोने लगा। मैं डर गई और उसे पूछने लगी चार्ल्स प्लीज कुछ बोलो मुझे डर लग रहा है। क्या बात है?? घर में सब ठीक है?? तब उसने मुझे रोते हुए बताया कि आज मैंने उसे देखा। वह वापस आ गया है। तब मैंने उससे पूछा चार्ल्स कौन आ गया है?? तुम किसकी बात कर रहे हो?? तब उसने कहा डैड!! वह वापस आ गए हैं और अब वह मुझे फिर से परेशान करेंगे, मुझे मारेंगे। मुझे डर लग रहा है। वह कहने लगा प्लीज मुझे बचा लो प्लीज!! तब मैंने उसे कहा चार्ल्स शांत हो जाओ, कुछ नहीं होगा तुम्हें। हम सब है ना, हम उसे तुम्हारे पास भी नहीं आने देंगे तुम सेफ होचार्ल्स प्लीज डोंट वरी, कम ऑन कम इंसाइड तुम काफी थक गए हो। तुमने  ब्रेकफास्ट किया?? तब उसने ना में इशारा किया। मैं उसे अपने साथ खींचकर अंदर ले गई और फिर वह पूरे दिन मेरे साथ मेरे घर पर रहा। मेने उसका मूड ठीक करने की पूरी कोशिश की लेकिन फिर भी वह काफी डरा हुआ था। जब शाम को वह अपने घर चला गया तब मैंने डिसाइड किया चाहे कुछ भी हो जाए हम उस आदमी को चार्ल्स के आसपास भी नहीं आने देंगे।
इतने दिनों की कोशिश के बाद आज फाइनली चार्ल्स मिलने के लिए तैयार हुआ है। जब से उसके पापा जेल से बाहर निकाल आए हैं वह घर से बाहर निकलने को तैयार नहीं था लेकिन आखिरकार आज मैंने उसे मना ही लिया। मैं बहुत खुश थी कि फाइनली आज में और चार्ल्स इतने टाइम बाद शॉपिंग के लिए जा रहे हैं। मैं तैयार होकर घर से चली गई। मैं जैसे ही अपोलो टावर के पास पहुंची तो देखा चार्ल्स ऑलरेडी वहां मेरा इंतजार कर रहा था। मैंने देखा उसका मूड पहले से काफी बेहतर लग रहा था वह अपसेट भी नहीं था। मुझे देखते ही उसने एक फ्रेंडली हग दिया और फिर हम दोनों मार्केट में शॉपिंग करने लगे। चार्ल्स को खुश देखकर काफी अच्छा लग रहा था। मैंने चार्ल्स को कहा आज इतने दिनों बाद तुम्हारे चेहरे पर हंसी देखकर मुझे काफी अच्छा लग रहा है। प्लीज तुम कभी उदास मत हुआ करो, तुम्हें दुखी देखकर अच्छा नहीं लगता और फिर मेरे आंखों में आंसू आ गए। चार्ल्स ने मेरे से हाथ पकड़ कर मुझे चेयर पर बिठाया और पूछता है क्या हुआ?? तब मैंने उसे कहा उसे दिन तुम्हें इतना घबराया देखकर मैं बहुत डर गई थी। डर लग रहा था कि कहीं तुम अपने आप को कुछ करना लो। तब चार्ल्स ने मुझे कहा तुम इतना परेशान मत हो मैं ठीक हूं।  तुमने सही कहा था मुझे अब उनसे नहीं डरना चाहिए। तुम सबके होते हुए वह मुझे कुछ नहीं कर सकता। थोड़ी टेंशन थी मुझे पर अब नहीं है और फिर मैं और चार्ल्स आइसक्रीम खाने लगे। थोड़ी देर बाद मेने चार्ल्स  से पूछा कि तुम कब अपने प्यार से मुझे मिलवाओगे?? इतने दिन हो गए हैं लेकिन अभी तक तुमने मिलवाया नहीं। तब चार्ल्स ने मुझे कहा डोंट वरी मैं बहुत जल्द तुम्हें उसे मिलवाऊंगा। मुझे पूरा यकीन है जब तुम मिलोगी ना तो खुश हो जाओगी वह बिल्कुल तुम्हारी जैसी है।  फिर उसकी नजर एक टॉय शॉप पर पड़ती है। वह बोलता है लेट्स गो, मुझे उसके लिए एक प्यारा सा टेडी खरीदना है। तुम्हारी तरह उसे भी टेडी बेयर काफी पसंद है और वह मुझे खींचकर अपने साथ ले गया।
चार्ल्स इतना एक्साइटेड होकर शॉप में टेडी देख रहा था। उसे इतना खुश देखकर मुझे बहुत अच्छा लग रहा था। काफी वक्त बाद में मैंने चार्ल्स के चेहरे पर इतनी खुशी देखी थी। मैं मन ही मन भगवान से प्रार्थना कर रही थी उन्हें थैंक यू बोल रही थी कि उन्होंने चार्ल्स की लाइफ में उस लड़की को भेजो जिसने चार्ल्स को इतनी  खुशी दी। लेकिन पता नहीं क्यों मुझे दुख भी हो रहा था यह सोचकर कि चार्ल्स कभी मेरा नहीं हो सकता। मुझे पता है मेरे मन में ऐसा ख्याल नहीं आना चाहिए था लेकिन मैं अपने आपको ऐसा सोचने से रोक नहीं पा रही थी। चार्ल्स किसी और से प्यार करता है यह सोचकर मेरे दिल के टुकड़े होते जा रहे थे। लेकिन फिर मेरी नजर चार्ल्स पर गई जिसकी आंखों में चमक थी। मैंने सोचा नहीं मुझे चार्ल्स के लिए खुश होना चाहिए, यही सोचकर मैं उसके पास गई। मैंने उसे टेडी पसंद करने में मदद की। शाम को चार्ल्स ने मुझे घर ड्रॉप किया और कहा अमायरा मैं चाहता हूं कि तुम वैलेंटाइन डे के दिन फ्री रहो। जब मेने उससे  कारण पूछा?? तो उसने कहा मैं तुम्हें उस दिन अपने प्यार से मिलने वाला हूं। मैंने उससे कहा चार्ल्स में भी मिलना चाहती हूं पर मुझे लगता है तुम्हें वह दिन उसके साथ बिताना चाहिए। तब चार्ल्स में मुझे कहा देखो अमायरा प्लीज मना मत करो। मैं चाहता हूं तुम सच में उस दिन आओ। अगर तुम आओगी तो मुझे खुशी मिलेगी। तब मैंने उससे कहा ठीक है चार्ल्स, तुम्हारी खुशी के लिए कुछ भी और फिर मैं घर के अंदर चली गई।
थोड़े दिन बाद में चार्ल्स का इंतजार कर रही थी मॉल के बाहर। वो आज मुझे लेने आने वाला था आज वैलेंटाइन डे था तो आज मैं उसे लड़की से मिलने वाली थी जिसे चार्ल्स इतना प्यार करता था। मैंने सोचा चार्ल्स आज मुझे उस लड़की से मिला तो रहा है लेकिन क्या मैं यह सहन कर पाऊंगी?? क्या मैं चार्ल्स को किसी और के साथ देख पाऊंगी?? बचपन से लेकर आज तक चार्ल्स ने हमेशा मुझे इंपॉर्टेंट दी है, प्रायोरिटी दी है, हमेशा मुझे सबसे पहले रखा है अपनी जिंदगी में लेकिन आप सब बदल जाएगा। कोई और मेरी जगह ले लेगा उसकी जिंदगी में। अब मैं उसकी लाइफ में इतनी इंपोर्टेंट नहीं रहूंगी जितनी पहले थी। मुझे डर लग रहा था कि मेरी यह जो इन सिक्योरिटी है चार्ल्स को लेकर उसकी वजह से मैं कहीं चार्ल्स की खुशियों के बीच में ना आ जाओ?? उसके दुखों का कारण न बन जाओ ?? फिर मैंने सोचा नहीं मैं ऐसा होने नहीं दूंगी। मैं चालीस से उसकी खुशियां नहीं लूंगी चाहे उसके लिए उससे दूर जाना पड़े मैं चली जाऊंगी। वैसे भी अब कॉलेज कंप्लीट होने वाला है तो मुझे कुछ तो सोचना ही होगा अपनी फ्यूचर के लिए। मैं पापा से बात करके किसी और शहर में जॉब के लिए अप्लाई कर दूंगी। इससे चार्ल्स को भी बुरा नहीं लगेगा और मुझे यहां से जाने का मौका मिल जाएगा। फिर चार्ल्स भी उस लड़की के साथ खुश रहेगा और मुझे भी मौका मिल जाएगा मूव ऑन करने का।
मैं यही सब सोच रही थी कि तभी चार्ल्स की आवाज सुनाई दी। मैंने आसपास देखा तो सामने रोड के उसे तरफ चार्ल्स खड़ा था और मुझे हाय कह रहा था। फिर वह रोड क्रॉस करके मेरी तरफ आने लगा। मैं उसका इंतजार कर रही थी। तभी मेरी नजर उसके पीछे गई और मैं शॉक्ड हो गई। उसके पीछे उसका बाप खड़ा था। वह आदमी जो उसके बचपन के सारे दुखों का कारण था। मैं उसे वहां देखकर घबरा गई। मेने जोर से चार्ल्स को आवाज़ लगाई और उसे पीछे देखने को कहा। मैं भाग कर उसके पास जाने लगी। चार्ल्स मुझे ऐसे देखकर कंफ्यूज हो गया।  मैंने उसे कहा चार्ल्स प्लीज पीछे देखो लेकिन जब तक चार्ल्स को कुछ समझ आता बहुत देर हो गई थी। मैं भाग कर उसके पास जा ही रही थी लेकिन फिर गोली चलने की आवाज आई और मैं अपनी जगह पर रुक गई। मेरी आंखों के सामने उस इंसान ने चार्ल्स को गोली मार दी। मैं कुछ कर नहीं पाई और खड़े-खड़े तमाशा देखती रही। लेकिन जैसे ही चार्ल्स नीचे गिरने लगा मैं भाग कर उसके पास गई। उसे आवाज लगाई चार्ल्स प्लीज उठो, प्लीज अपनी आंखें खोलो लेकिन वह नहीं उठा। आसपास के लोग भी चार्ल्स को देखकर भाग कर हमारे पास आए। उन्होंने मेरी मदद की और हम चार्ल्स को अस्पताल ले गए।
To Be Continued…..

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *