• Stories - Thriller Story

    Pehchan- 2

     Pehchan- 2       रिया उन्हें समझाती है क्या मां आप हर बार की तरह उदास हो रही हो। आपके पास में हूं और मेरे पास आप है यही बहुत है बस और कुछ नहीं चाहिए जिंदगी से। रिया के मुंह से यह सब सुनकर उसकी मां खुश हो जाती…

  • Inspirational Story - sad stories - Stories

    Betiyaan Part – 1

    Betiyaan Part – 1     अमन और किरण दोनों साथ में खेल रहे होते हैं और भागते हुए गलती से किरण के हाथों अमन को धक्का लग जाता है और अमर नीचे गिर जाता है। वह जोर जोर से रोने लगता है तभी उसकी दादी (शारदा देवी) दौड़कर उसके…

  • Stories - Thriller Story

    Pehchan- 1

    Pehchan- 1     मां रोज की तरह आज भी चाय और ब्रेड की दोस्त बनाकर डाइनिंग टेबल पर रखती है और आवाज लगाती है, रिया-रिया नाश्ता तैयार है बेटा जल्दी आ वरना ठंडा हो जाएगा। रिया अपने कमरे में तैयार हो रही होती है मां की आवाज सुनकर वह आवाज…

  • Frienship Story - sad stories - Stories

    Yaarana – 3

    Yaarana – 3     छोडूंगा नहीं मैं तुम्हें रूही, खूनी हो तुम इसलिए तुम्हारा मां पापा भी तुम्हें छोड़कर चले गए। अब मैं तुम्हें यहां और नहीं रहने दूंगा। चले जाओ यहां से अगर अब मेने तुम्हें यहां दोबारा देखा तो मैं जान ले लूंगा तुम्हारी समझी तुम।  …

  • Frienship Story - sad stories - Stories

    Yaarana – 2

    Yaarana – 2     रुही तो उसकी जिंदगी है। जितना प्यार वह रूही से करता है ना उतना वह शायद अपनी मां से भी नहीं करता। हम सब में जान बसती है उसकी। मुझे आज भी याद है वह कैसे हमारे लिए बड़ों की डांट सुनता था।    …

  • Frienship Story - sad stories - Stories

    Yaarana – 1

    Yaarana – 1     अनिकेत और उसके दोस्त कार से कॉलेज में इंटर करते हैं और अपनी कार पार्क करके क्लास की तरफ जा रहे होते हैं। तभी उसकी नजर कैंटीन में जाती है जहां पर कुछ लोग एक लड़की को परेशान कर रहे होते हैं। वह जैसे ही…

  • Frienship Story - Inspirational Story - sad stories - Stories - Thriller Story

    Charles And Amaira – 3

    उसे आवाज लगाई चार्ल्स प्लीज उठो, प्लीज अपनी आंखें खोलो लेकिन वह नहीं उठा। आसपास के लोग भी चार्ल्स को देखकर भाग कर हमारे पास आए। उन्होंने मेरी मदद की और हम चार्ल्स को अस्पताल ले गए।     मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था क्या करूं आज चार्ल्स…

  • Frienship Story - Inspirational Story - sad stories - Stories - Thriller Story

    Charles And Amaira – 2

      मैं बस कुछ देर वहाँ शॉकेड होकर खड़ी रही और फिर इस्माइल करके आज का दिन सच में बहुत अच्छा था और अंदर चली गई। आज पूरे दिन में बस शाम होने का इंतजार कर रहीं थी। सारा दिनदिमाग में बस चार्ल्स की बात घूम रही थी। सोच रही…

  • Frienship Story - Inspirational Story - sad stories - Stories - Thriller Story

    Charles And Amaira – 1

    Charles And Amaira       में [अमायरा ] 5 साल की थी जब हमारे पास वाले घर में एक फैमिली रहने लगी। वो लोग कुछ अजीब से थे, ना ज्यादा किसी से मिलते थे, न बात करते थे और उस घर से एक लड़का भी था। उसका नाम था…